मेरे बड़े --

Tuesday, September 27, 2016

स्कूल में मजे

मेरी यानि  आपकी मायरा की पहचान है- दोनों पैरों में काला धागा .. :-) देखो ज़रा कितने मजे किये मैनें  ..

ये हुई एंट्री -



ये उतरी  पानी में -


और ये थोड़ी देर बाद में - 


अब ज़रा मुंह धो लूँ -



लगी ठंडी -- निकलो बाहर -





चलूँ फिर से अंदर --



 ना ना ना। ..मत निकालो दीदी। .. :-)




ये क्या? .... बाहर क्यूँ निकाल दिया


 फिर से भाग लूँ। ..उस तरफ से जा  सकती हूँ   ..



ओह ! ये क्या। ..पकड़ में आ गई उफ़!